भारतीय क्रिकेट टीम के बेहतरीन गेंदबाज़ रहे इरफ़ान पठान को सोशल मीडिया पर मुस्लिम समुदाय के लोगो ने खूब खरी-खोटी सुनाई. वजह सुनकर हैरान रह जाएंगे आप. दरअसल, सोमवार को रक्षा बंधन था और इसी मौके पर इरफ़ान पठान ने अपने ट्विटर अकाउंट से एक ट्वीट करते हुए सबको रक्षा बंधन की बधाई दी.

सभी सेलिब्रिटीज ने अपनी बहेनो के साथ और कलाई पर बंधी राखी की तस्वीर डाली. वीरेंद्र सहवाग से लेकर विराट कोहली तक ने रक्षाबंधन पर तस्वीरें शेयर कीं. इसी सिलसिले में इरफान पठान ने भी अपनी ये तस्वीर अपने फेसबुक अकाउंट से शेयर की.

आपको बता दें कि इस तस्वीर में इरफान अपनी कलाई पर बंधी राखी नज़र आये. उसी दौरान इरफान पठान को अपनी तस्वीर के लिए बहुत आलोचना का सामना करना पड़ा.

इरफान पठान की तस्वीर पर कमेंट करते हुए लोगों ने ये तक लिखा कि आपको इतना भी पता नहीं कि राखी बंधवाना इस्लाम में हराम है. वहीं कुछ ने लिखा कि तुम्हारे पिता एक मौलवी हैं उसके बाद भी तुम इस तरह के नीच काम करते हो. कुछ मुस्लिम यूजर्स ने तो ये तक लिख दिया कि इरफान जैसे मुसलमानों को देख मुझे खुद मुस्लिम होने पर अफसोस होता है. 

आपको बता दें कि यह सब टिपण्णी करने वाले लोग उन्ही के फैंस है जिनको इरफ़ान का राखी बंधवाना बिल्कुल न गवार गुजरा.

ऐसा पहली बार नहीं हुआ है कि इरफ़ान पठान मुस्लिम समुदाय के निशाने पर आये है. इससे पहले भी इरफ़ान के साथ यह हो चूका है. कुछ दिनों पहले इरफान पठान ने अपनी पत्नी के साथ तस्वीर शेयर की थी. उस तस्वीर पर भी मुस्लिम धर्म के यूजर्स ने उनकी काफी आलोचना की थी.